top of page

प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम: सच और झूठ

प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम या प्रागार्तव (पी.एम.एस.) लक्षणों का समूह है जो महिला को पीरियड्स से पहले या उसके दौरान होते हैं। इन लक्षणों में चिड़चिड़ापन और अवसाद से लेकर भोजन की तेज़ इच्छा और बहुत कुछ शामिल हैं। अक्सर, PMS के संकेतों और लक्षणों के बारे में यह सोचा जाता है कि महिला 'मूडी' है। बल्कि कुछ लोगों का तो यह भी मानना है कि पी.एम.एस. जैसी कोई चीज़ नहीं है। सच और झूठ के फ़र्क का पता लगाने के लिए निवि आपके साथ मौजूद है!


1) PMS आपका वहम है

झूठ: पी.एम.एस. एक सच है। चिड़चिड़ापन, थकान, चिंता और उदासी जैसे कुछ या सभी लक्षणों का मिलाजुला संयोजन आपकी माहवारी से पहले या उसके दौरान पी.एम.एस. के कारण हो सकते हैं। पी.एम.एस. हार्मोन के स्तर में बदलाव के कारण हो सकता है क्योंकि जब आपके शरीर को पता चलता है कि आप गर्भवती नहीं हैं तो आपके शरीर के हार्मोन के स्तर ख़ुद को स्थिति के मुताबिक़ बदलते हैं । तो, अगली बार जब आप किसी बेतुकी वजह से परेशान हों, तो जान लें कि आपकी भावनाएँ सही हैं और आप जल्द ही ऐसा महसूस करना बंद कर देंगी!

2) पी.एम.एस. के लक्षणों में आराम पाने के लिए आप कुछ मिनरल और विटामिन ले सकती हैं

सच: देखा गया है कि कैल्शियम और विटामिन सी से ऐंठन, चिड़चिड़ापन, पेट फूलना, चिंता और थकान जैसे पी.एम.एस. के लक्षणों में आराम मिलता है। आप कैल्शियम और विटामिन सी सप्लिमेंट्स भी ले सकती हैं, लेकिन अगर आप इसे अपने आहार में शामिल करना चाहती हैं, तो कैल्शियम के लिए दूध, पनीर और दही, और विटामिन सी के लिए खट्टे फल, हरी सब्ज़ियाँ और सफ़ेद आलू जैसी चीज़ें इस्तेमाल करें!

3) जिस महिला को पीरियड्स होते हैं, उसे पी.एम.एस भी ज़रूर होता है

झूठ: अगर आपको पी.एम.एस. के लक्षण नहीं हैं, तो भी ठीक है, बल्कि आप ख़ुशक़िस्मत हैं! सभी महिलाओं को ये लक्षण नहीं होते हैं, लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि जिन महिलाओं को इनका अनुभव होता है, उन्हें बदनाम किया जाना चाहिए।

4) चाहे कोई कुछ भी कहे, मेरी भावनाएं और लक्षण ग़लत नहीं हैं!

सच: अगर कोई आपकी भावनाओं को नज़रअंदाज़ करता है या आपके लक्षणों को नकारता है, तो यह समझ लें कि आप जो महसूस कर रही हैं वह सच है और इसमें कोई बुराई नहीं है! कुछ लोगों का यह ग़लत मानना है कि पी.एम.एस. 'सच' नहीं है, जबकि ऐसे कई सबूत हैं जो साबित करते हैं कि ऐसा होता है। बस फ़िक्र न करें, बहुत सारा कैल्शियम और विटामिन सी खाने की कोशिश करें और थोड़ा आराम करें। लक्षण कुछ ही समय में समाप्त हो जाएंगे।


क्या आप ज़्यादा जानना चाहते हैं? क्या यौन संबंधों, एस.टी.आई, एचआईवी/एड्स, या गर्भनिरोध के बारे में आपके कोई और सवाल हैं? याद रखें आप कभी भी निवि से व्हॉट्सऐप और फ़ेसबुक मेसेंजर से चैट कर सकते हैं। यह प्राइवेट, गोपनीय और बिल्कुल मुफ़्त है!



Comentários


bottom of page